सर-ए-राह

जैसा देखा-सुना

45 Posts

28912 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 226 postid : 367

कितना सच कितना झूठ

Posted On: 18 Mar, 2012 में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

वैसे तो मैं रोज किसी न किसी टीवी चैनल पर अतुल्‍य मध्‍य प्रदेश देखता था। चौंकता था, दाद देता था क्‍या विज्ञापन बनाया है। क्‍या कमाल की हैंडशैडोग्राफी है। लेकिन जिस द‍ि‍न से आइपीएस नरेंद्र कुमार की हत्‍या हुई, एक मिनट सात सेंकेंड के इस विज्ञापन को देखकर भय लगने लगा है। एमपी अजब है की लंबी टेर के साथ यह वीडियो जैसे-जैसे आगे बढ़ता है, सचमुच लगता है कि एमपी यानी मध्‍य प्रदेश वाकई कितना अजब है। कितना गजब है मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह का मध्‍य प्रदेश। यहां एक-दो नहीं, सैकड़ों शेर की गूंजती आवाज के साथ जब शेर दौड़ते हैं तो लगता है कि माफिया की भीड़ और तरह-तरह की आकृतियां बनाने के लिए ऊपर-नीचे उठते-गिरते हाथ फिर किसी नरेंद्र कुमार को दबोचने जा रहे हैं। यहां संगमरमर खुदता नहीं, छूता आसमान है–का दावा खालिस झूठ लगता है। रेत माफिया, खनन माफिया की पूरी फेहरिस्‍त आंखों के सामने नजर आने लगती है। यह वही अतुल्‍य मध्‍य प्रदेश हैं, जहां जांबाज आइपीएस अफसर को ट्रैक्‍टर से रौंद कर मार दिया जाता है और यहां की पुलिस कहती है कि महज एक्‍सीडेंट था। चलिए मान लिया कि नरेंद्र कुमार की मौत में माफिया का हाथ नहीं था। लेकिन नरेंद्र कुमार की मौत के ठीक एक दिन बाद पन्‍ना में एसडीएम और आइपीएस अफसर पर खनन माफिया ने फायर झोंके, क्‍या वह भी महज हादसा था? एक इंग्लिश न्‍यूज चैनल पर मुंह बांधे और कंधे पर बंदूक चढाए एक शख्‍स साफ-साफ इकबाल करता है कि खनन माफिया सक्रिय हैं। हमसे जब‍रन खनन कराया जाता है। इसकी जड़ में हैं बेरोजगारी। रोजगार मिले तो लोग यह काम छोड़ सकते हैं। पूरे सूबे के छात्रों को पेट के बल लिटाकर सूर्य नमस्‍कार कराने वाली मध्‍य प्रदेश सरकार पता नहीं कब लोगों को रोजगार उपलब्‍ध कराने और शिक्षित कराने के बारे में सोचेगी। नसरुल्‍लाहगंज इलाके में 200 करोड़ का खनन घोटाला भी कहां तक गलत है, कहां तक सही इसकी जांच कराने पर कितनी तवज्‍जो दी गई, यह तो मध्‍य प्रदेश सरकार ही बताएगी। लेकिन कुछ तो हकीकत इसमें नजर आती ही है। यहां परमिट 16 हेक्‍टेअर की और खनन 377 हेक्‍टेअर में। चंबल रेंज में खनन पर सात साल पहले अदालत ने प्रतिबंध लगाया था, लेकिन खनन हो रहा है। 5000 करोड़ का पॉवर घोटाला भी इस सूबे के नाम जुड़ रहा है। इसको लेकर लोकायुक्‍त में शिकायत भी दर्ज कराई जा चुकी है। ग्‍वालियर के निकट सिरोली में अरबों की जमीन जो जनता की थी, उसे निजी बताकर बिल्‍डरों के हवाले कर दिया जाता है।मेडिकल कॉलेजों में 114 मुन्‍ना भाई फर्जी तरीके से एडमिशन ले लेते हैं। आरटीआइ कार्यकर्ता शेहला मसूद का कत्‍ल कर दिया जाता है और इसमें सत्‍तारूढ़ दल के एक राजनेता का नाम जुड़ जाता है।सीबीआइ हकीकत जानने के लिए पॉलीग्राफी करा चुकी है। और न जाने कितने आरोप-प्रत्‍यारोप यहां की सरकार पर चस्‍पा होते रहे हैं। फिर भी अतुल्‍य मध्‍य प्रदेश कहता है–सबको देता शांति का फरमान है।

MP Ajab Hai Sab Se Ghazab Hai



Tags:         

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (4 votes, average: 4.50 out of 5)
Loading ... Loading ...

708 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Jimbo के द्वारा
July 12, 2016

Hi I’m insteeetrd in my products produced by your company and how much hope you send us catalog my Mentcengm and the final price I study Amknah not work with you in the future and thank you for Alton

neeraj vashitha के द्वारा
March 20, 2012

दरअसल, मध्‍यप्रदेश सरकार कर्नाटक सरकार के नक्‍शेकदम पर चल रही है। शिवराज सिंह को मालूम है कि यह उनका आखिरी टर्म है सो लूट सके तो लूट। भाजपा जहां जहां भी सरकार में है अपने बूते उसे यकीन हो गया है कि हमारा राम नाम सत्‍य होने जा रहा है, इसलिए जब किसी राजा को लगता है कि उसके शासन का आखिरी वक्‍त आ रहा है तो वह खजाने को अपने हक में करने में जुड़ जाता है। मध्‍यप्रदेश की यही त्रासदी है, जनता दुखी है। बड़े बड़े पुलिस अधिकारी सुरक्षित नहीं है। असुरक्षित प्रदेश है यह।

    Janeece के द्वारा
    July 12, 2016

    with regard to Jacob using or appearing as people/dogs to accomplish things, perhaps Jacob was using Cooper to get the monkey of sawyers back and to help john get past ben’s shennanigans so he could become the leader of the others. I know, crazy, but this is LOah!!!MoohaTS- Don’t give up on Jack’s dad as Jacob quite yet, as I am still kind of there with you, and don’t want to stand alone.

D33P के द्वारा
March 19, 2012

एक जांबाज आइपीएस अफसर को ट्रैक्‍टर से रौंद कर मार दिया जाता है और यहां की पुलिस ( उसकी के अधीनस्थ ,उसी के साथी )कहती है कि महज एक्‍सीडेंट था।इससे बड़ी त्रासदी और क्या होगी एक आइपीएस अफसर जो देश से अपराध से लड़ने और उसे ख़तम करने की कसम खाता है वर्दी पहनते समय देश की धरती को सलाम करते हुए कहता है मै तेरी रक्षा करूँगा ,वो इस देश में रचे बसे गुंडा राज और माफिया की मार से खुद को नहीं बचा सका .अब आप सोचिये आम नागरिक खुद को कितना सुरक्षित मानेगा

    Lidia के द्वारा
    July 12, 2016

    Un individu peut avoir des qualités merveilleuses (tout le monde a ses qualités), mais il faut réaliser que l&rusqo;attitude, le charisme et les habiletés sociales jouent pour beaucoup dans la séduction. Ce qu’on dégage, ce qu’on fait naître comme sentiments chez l’autre personne… tout cela joue un rôle très important. J’ai connu des personnes merveilleuses qui avaient beaucoup de difficultés à séduire… simplement parce qu’ils avaient peu de charisme. À méditer pour plusieurs personnes (gars comme filles)

krishnakant के द्वारा
March 19, 2012

मदनजी, विज्ञापन के बहाने मध्‍य प्रदेश सरकार की अच्‍छी खबर ली है आपने। अच्‍छा लेख है। बधाई।

    Flora के द्वारा
    July 12, 2016

    I’d like to say thanks for posting this – and I’m sorry I di1n;#82d7&t leave a comment at the time (it was a turbulent personal time, I’m afraid). You have a wonderful blog and it was great to appear here.Happy holidays and all the best for 2012!Dave

SHASHANK SHEKHAR SINGH के द्वारा
March 19, 2012

madhya pradesh me vartman sthiti ki bahut sateek abhivyakti


topic of the week



latest from jagran